संडे की छुट्टी!!

संडे की छुट्टी….माँ का ओवरटाईम!!!

इतवार का दिन था, बच्चों ने फरमाइश कर दी..मम्मी आज हम ब्रैड-पकोड़े खाएंगे. माँ जो रोज़ ८ बजे उठती है,संडे को ६ बजे उठ जाती हैं…क्योंकि फरमाईशे सिर्फ बच्चे ही नही करते ना।
“अरे सुनो, अखबार आज जरा लेट आया है,एक कप चाय और ”

माँ का संडे खुद को शीशे में देखकर व्यवस्थित करने से शुरु नहीं होता,इतवार की भी इब्तिदा होती है किचन में, जहाँ माँ रात के बर्तनो पर पानी डाल के उन्हें गुड मार्निंग कहती हैं. फिर पापा के लिए चाय के साथ नाश्ते का इंतजाम होता है.

बच्चो को अगर इंतजार कराया जाए फिर सिर्फ ब्रैड-पकोड़े काफी नहीं.
“अब नहीं खाना मुझे”
माँ मनुहार करती हैं,
बस माँ ही तो है जो मनाना जानती है.
सो फेवरिट आइटम लंच में बनाने का लालच देती हैं.

सबने नाश्ता कर लिया,तब कहीं जाकर माँ जरा सी साँस लेती हैं. संडे तो है,सुस्ताने की इच्छा भी बहुत हैं,पर अब लंच का टाइम होने वाला है,बच्चो को वादा किया है “पनीर-बटर-मसाला” और “भिंडी” खिलाने का. पर अब एक और समस्या
“इन्हे” भिंडी पसंद नहीं,
चलो इनके लिए मिक्स-वैज ठीक रहेगा.

किचन की सेकंड इनिंग समाप्त कर माँ अपने कमरे में लेटी ही थी कि शुक्ला आंटी का फोन आ गया. संडे की आपा-धापी में माँ को याद ही नही रहा था कि शुक्ला ऑंटी के साथ शॉपिंग का प्रोग्राम भी लिस्ट में शामिल हैं.
अब आते आते शाम हो ही जाएगी, चलो, ये इतने आराम कर ले लेंगे,बच्चे अपने आप में मशगुल हैं ही.

क्रिकेट मे दो ही पारी होती है,पर माँ क्रिकेट थोड़ी खेलती हैं…सो एक और पारी के लिए तुरंत तैयार हो जाती हैं-“डिनर”
किचन भी मानो माँ की सहेली ही हैं, माँ नही रहती इसके पास तो ये भी बिखरी बिखरी सी रहती हैं. और माँ साथ हो तो बहुत चहकती हैं.
ख़ैर,
डिनर में क्या बनाया जाएं?
सवाल बेहद गंभीर हैं,क्योंकि अगर बनने के बाद किसीका मन कुछ और खाने को कर गया तो!!
नहीं, माँ काम से जी नहीं चुराती पर बर्बादी पसंद नहीं हैं माँ को.

आज माँ खुश है,बच्चो ने मदद की है आज…मेन्यु सुझा कर. रात्री भोज के बाद माँ सबको दूघ का ग्लास थमाना संडे को भी नहीं भूलती. गर्म दूध पीने से नींद अच्छी आती है,माँ ने सुना था कहीं.

संडे खत्म होने में १० मिनट है, अब माँ फुर्सत में है,कुछ और आज करना बाकी नहीं.
टीवी देखते हुए सब बाते कर रहे हैं. बातें करते हुए किसी ने कहा,
“सर्दिया आ गई है,गाजर के हलवे का सीज़न स्टार्ट..”

माँ ने मुस्करा के कहा
“अगले संडे”!!☺️

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s